VitalLogic

Logic for Life

Category: Poetry

Promise, is a Promise

करते हम  जरूर वादे हैं कम क्योंकि कहीं पीछा न करे , न निभाने का ग़म ! लेकिन जब करते है वादा हम भले ही देर होजाये , हर रिवाज तोड़ेंगे, खुदा की कसम लेकिन वादा जरूर निभाएंगे , या तो इस जनम या अगले जनम | चाहे तुम भूलजाओ, लेकर अगला जनम , लेकिन, […]

VitalLogic © 2015 Frontier Theme